केन्द्रीय मंत्री डॉ हर्षबर्धन 
नई दिल्ली: केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की कैंटीन और आधिकारिक बैठकों में जलपान के दौरान बिस्किट न दिए जाने के निर्देश जारी किए गए हैं. स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने इस बारे में संबंधित अधिकारियों को कैंटीन और आधिकारिक कार्यक्रमों के दौरान हेल्दी फूड दिए जाने की बात कही थी जिसके बाद मंत्रालय ने यह फैसला लिया है और इसके लिए जरूरी निर्देश जारी कर दिए गए हैं.

स्वास्थ्य मंत्रालय के निर्देश के मुताबिक, मंत्रालय की कैंटीन और आधिकारिक कार्यक्रमों में स्नैक्स के तौर पर लाइ, चना, खजूर, भूने चने, बादाम और अखरोट को परोसा जाएगा.

स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों का कहना है कि डॉक्टर हर्षवर्धन का मानना है कि स्वस्थ रहने के लिए इस तरीके के खानपान को बढ़ावा देना जरूरी है. इसी के साथ स्वास्थ्य मंत्रालय के देशभर में मौजूद सभी ऑफिस और अस्पतालों को भी निर्देश जारी किए गए हैं.

बिस्किट की अपेक्षा लाई, चना, खजूर, भूने चने, बादाम और अखरोट तमाम तरीके के मिनरल्स और विटामिन से भरपूर बताए जाते हैं. इसके अलावा चना, खजूर, बादाम और अखरोट को काफी स्वास्थ्यवर्धक माना जाता है. लिहाजा डॉक्टर इनको खाने की सलाह देते रहते हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय ने इससे पहले अपने कार्यक्रमों और कैंटीन में प्लास्टिक वाटर बॉटल न इस्तेमाल करने का फैसला लिया था. यह फैसला प्लास्टिक पर रोक लगाने के लिए लिया गया था.
Share To:

Post A Comment:

0 comments so far,add yours