मसूरी। मजदूर संघ द्वारा नगर पालिका प्रशासन के खिलाफ मालरोड पर संचालित किये जा रहे दुपहिया वाहन स्कूटी, मोटरसाईकिल व साइकिलें बंद करने, कंपनी बाग रूट पर पूर्व की भाँती टैक्सीयों को पूर्णतः प्रतिबंधित करने व पूर्व पालिका बोर्ड में शिफन कोर्ट स्थित तोड़े गये मजदूर आवास का जल्द से जल्द पुनर्निर्माण करने सहित विभिन्न मांगों को लेकर जोरदार प्रदर्शन किया व मजदूरों के हितों की सुरक्षा करने की मांग की है। जिसके बाद नगर पालिकाध्यक्ष अनुज गुप्ता ने मांगों को लेकर आश्वासन दिया व अधिशासी अधिकारी को मजदूरों की मांगो पर यथासंभव कार्यवाही करने के निर्देश दिए। जिस पर अधिशासी अधिकारी एम् एल शाह ने मजदूरों को भरोसा दिया कि अध्यक्ष के निर्देशानुसार उनकी मांगों पर नियमानुसार यथाशीघ्र कार्यवाही की जायेगी, जिसके बाद मजदूरो ने अपना धरना-प्रदर्शन समाप्त किया।


मजदूर संघ के सचिव गम्भीर पंवार के नेतृत्व में बड़ी संख्या में रिक्शा व बोझा श्रमिकों ने मालरोड पर एकत्र होकर नगर पालिका तक पालिका प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर धरना-प्रदर्शन किया। पालिका प्रांगण पहुंचकर श्रमिकों ने काफी देर तक नारेबाजी की।

उसके बाद नगर पालिकाध्यक्ष अनुज गुप्ता व अधिशासी अधिकारी ने पालिका सभागार में पहुँच कर श्रमिकों की समस्याएं सुनी। इस दौरान अपनी विभिन्न मांगों को लेकर मजदुर संघ द्वारा पालिकाध्यक्ष को ज्ञापन दिया गया। ज्ञापन में मॉल रोड पर संचालित हो रहे व्यावसायिक दुपहिया वाहनों स्कूटी, मोटरसाईकिल व साइकिलों को तत्काल प्रभाव से बंद करने, कंपनी बाग रूट पर पूर्व की भाँती टैक्सीयों को पूर्णतः प्रतिबंधित करने की मांग की गई ताकि उनकी रोजी रोटी प्रभावित न हो। साथ ही वर्ष 2008 में तत्कालीन] पालिका बोर्ड द्वारा शिफन कोर्ट स्थित तोड़े गये मजदूर आवास का जल्द से जल्द पुनर्निर्माण करने, बार्लोगंज स्थित मजदूर आवास को पूर्व सभासद शिवानी भारती के कब्जे से मुक्त कराकर मजदूर संघ को वापस दिलाने की मांग की गई। इसके साथ लंढौर सिविल अस्पताल के समीप आईडीएच बिल्डिंगमें में बने मजदूरों के आवासों को सूचिबद्ध किए गये पात्र मजदूरों को आवंटित करने तथा जो वहां अवैध रूप से रह रहे हैं उनसे मकान खाली कराने की मांग की गई।

श्रमिकों की मांगों पर पालिकाध्यक्ष अनुज गुप्ता ने मजदूर संघ को आश्वस्त करते हुए कहा कि मालरोड पर किराये पर चलने वाले दुपहिया वाहनों को रोकना शुरू कर दिया है तथा कई साइकिलें जब्त करा दी गई हैं,जो कि लगातार जारी रहेगा। वहीं बार्लोगंज स्थित मजदूर आवास के बारे में कहा कि उसके बारे में पता किया जायेगा, कि किस आधार पर पूर्व सभासद को यह आवास दिया गया है, उससे सम्बन्धित कागजों की जांच की जायेगी। आईडीएच बिल्डिंग में बने आवासों में अवैध रूप से रह रहे लोगों की जांच कर उन्हें हटाया जायेगा, व पहले से सूचीबद्ध किये गये पात्र लोगों को ही आवास आवंटित किये जायेंगे। साथ ही कहा कि जिनके पास एक से अधिक जगह आवास पाए जायेंगे उनको वहाँ से बाहर किया जाएगा। वहीं शिफन कोर्ट में तोड़े गये मजदुर आवास को लेकर उन्होंने अधिशासी अधिकारी को निर्देशित किया कि जिस समझौते के तहत पर्यटन विभाग द्वारा वहां से आवासहीन हुए मजदूरों को किराया देने या आवास बनाने को कहा गया था, उसके आधार पर पर्यटन विभाग को पत्र लिखा जाय, यदि पर्यटन विभाग समझौते के मुताबिक़ कोई ठोस जवाब नही देता है, तो पालिका उनसे अपनी भूमि वापस लेगी व खुद आवास बनायेगी। इसके साथ ही पालिकाध्यक्ष ने कहा कि कंपनी बाग रूट पर पूर्व की भाँती टैक्सी को प्रतिबंधित करने के लिए पालिका को फोर्स की जरूरत है, शीघ्र ही पालिका पीआरडी जवानों की नियुक्ति करेगी व कंपनी बाग जाने वाली टैक्सियों को पुर्णतः रोकेगी। इस पर पालिका अध्यक्ष के आश्वासन पर श्रमिक आश्वस्त दिखे और उन्होंने पालिका को सहयोग देने का भरोसा दिया। इसके साथ ही पालिकाध्यक्ष ने रिक्शा श्रमिकों से अनुरोध किया कि वह भी व्यवस्था बनाये रखने में सहयोग करें। उन्होंने कहा कि जल्दी ही नगर पालिका रिक्शा स्टैंड पर लाइन खींच लेगी, और रिक्शा चालक लाइन के भीतर ही रिक्शाओं को खड़ा करें, ताकि मॉल रोड पर व्यवस्था बनी रहे।

मजदूर संघ के पूर्व मंत्री देवी गोदियाल ने कहा कि नगर पालिका व मजदूर संघ का चोली दामन का साथ है। हमारी अधिकाँश समस्याएं नगर पालिका से सम्बंधित होती हैं और जब भी मजदूर संघ को लगता है कि श्रमिकों को कोई समस्याएं हैं तो स्वाभाविक है कि श्रमिको की प्रशासन व नगर पालिका के खिलाफ नाराजगी सामने आती रहेगी। उन्होंने कहा कि जब भी मजदूरो की कोई सुनवाई नही होती है, तो श्रमिक इसी तरह अपना आक्रोश व्यक्त करते हैं, जो कि उनका लोकतान्त्रिक अधिकार है। आशा करते हैं कि पालिका जल्द ही रिक्शा श्रमिकों की समस्याओं का निराकरण करेगी।

मजदूर संघ के मंत्री गम्भीर पंवार ने कहा कि श्रमिकों का यह प्रदर्शन पालिका प्रशासन को अपनी समस्याओं से कार्यवाही करवाने हेतु अवगत करवाने के लिए था, न कि पालिकाध्यक्ष के खिलाफ। उन्होंने अधिशासी अधिकारी पर आईडीएच बिल्डिंग में बने आवासों से सम्बन्धित लगाए जा रहे आरोपों पर कहा कि प्रदर्शन के दौरान भीड़ में से आवेश में आकर कोई कुछ भी कह देता है, जो कि अक्सर ऐसे मौकों पर होता रहता है, लेकिन मजदूर संघ किसी पर भी ऐसे निराधार आरोप लगाने में विश्वास नही करता है , यदि किसी के द्वारा इस तरह की बात की गई है, तो वह उसे सही नही मानते। उन्होंने कहा कि नगर पालिका श्रमिकों से जिस सहयोग की अपेक्षा करेगी हम उसे पूरा करेंगे और पालिकाध्यक्ष से भी हमारी यही अपेक्षा है कि वे मजदूर संघ द्वारा रखी गई श्रमिक समस्याओं पर गंभीरता से विचार करेगे और मांगों को लेकर उचित कार्यवाही करेंगे। उन्होंने कहा कि पालिका अध्यक्ष द्वारा हमे जो आश्वस्त किया गया है, उस पर हमे पूरा भरोसा है कि हमारे द्वारा जो मांगे रखी गई हैं, उनका जल्द से जल्द निस्तारण किया जाएगा।

इस मौके पर पालिका कार्यालय अधीक्षक महावीर राणा, सभासद दर्शन रावत, प्रताप पंवार, मनीष खरोला, जसोदा शर्मा,होटल रेस्टोरेंट कर्मचारी संघ के अध्यक्ष सोबन सिंह पंवार, महासचिव विक्रम बलुड़ी, मजदूर संघ के पूर्व अध्यक्ष बलवंत नेगी, वीरेंद्र डुंगरियाल, पूर्व मंत्री रणजीत सिंह, संजय टम्टा, महिपाल सिंह सहित भारी संख्या में रिक्शा व बोझा मजदूर मौजूद रहे ।
Share To:

Post A Comment:

0 comments so far,add yours