देहरादून: उत्तराखंड में आज से निकाय चुनाव की आचार संहिता लागू होने के साथ ही तारीखों का एलान हो गया है। 18 नवंबर को मतदान होगा। जबकि 20 नवंबर को मतगणना की जाएगी। 

उत्तराखंड में निकाय चुनाव की अधिसूचना जारी कर दी गर्इ है। इसके साथ ही आचार संहिता भी लागू हो गर्इ है। राज्य निर्वाचन आयुक्त चंद्र शेखर भट्ट ने बताया कि मतदान प्रक्रिया 18 नवंबर को सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक होगी। भट्ट ने बताया कि 20 अक्टूबर से 23 अक्टूबर तक प्रत्याशियों के नामांकन की प्रक्रिया होगी। 27 अक्टूबर तक नाम वापसी होगी। 18 नवम्बर को चुनाव और 20 नवम्बर को चुनाव के नतीजे आएंगे।

वहीं तीन निकायों में आरक्षण घोषित न होने की वजह वहां चुनाव नहीं होंगे। जबकि निकाय गठन पर विवाद के चलते गंगोत्री, बदरीनाथ और केदारनाथ में चुनाव की जगह सदस्य मनोनीत किए जाते हैं। वहीं, सेलाकुई और भतरौंजखान नगर पंचायतों के मामले में कानूनी पेच अटका है। 

वहीं, जिलाधिकारी 16 अक्टूबर को सभी जिलों में चुनाव की अधिसूचना जारी करेंगे। उन्होंने ये भी बताया कि निकाय चुनाव बैलेट पेपर से कराए जाएंगे। आपको बता दें कि 92 निकायों में से 84 निकायों में ही चुनाव होंगे। 

20 अक्टूबर से 23 अक्टूबर तक चलेगी नामांकन प्रक्रिया। 

25 और 26 अक्टूबर को होगी नामांकन पत्रों की जांच। 

27 अक्टूबर को नाम वापसी। 

29 अक्टूबर को होगा चुनाव चिह्न का आंवटन। 

18 नवम्बर को होगा मतदान।

20 नवम्बर को होगी मतगणना।

नगर निकाय चुनाव के लिए कुल मतदाता केंद्र 1256 बनाए गए हैंसंवेदनशील मतदान केंद्र 305 और अतिसंवेदनशील 236 मतदान केंद्र हैं। 92 निकाय में से 84 निकायों में चुनाव होंगे। चुनाव 7 नगर निगम, 39 नगर पालिका और 38 नगर पंचायतों के लिए होना है। 3 अन्य निकायों में आरक्षण घोषित न होने की वजह चुनाव नहीं होगा। गंगोत्री, बदरीनाथ और केदारनाथ में चुनाव की जगह सदस्य मनोनीत होते हैं
दो निकाय के गठन पर विवाद के चलते नहीं चुनाव होंगे

उत्तराखंड 24 न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे यू-ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें |
Share To:

Post A Comment:

0 comments so far,add yours