NH-74-SCAM

     NH-74 SCAM

देहरादून: एनएच-74 भूमि मुआवजा घोटाले में जुटी एसआईटी ने बाजपुर तहसील के एक वकील को भी अपने रडार पर लिया है। एनएच-74 घोटाले में अब तक कई सलाखों के पीछे जा चुके हैं, वहीं गलत तरीके से मुआवजा लेने वाले काश्तकारों के खिलाफ भी एसआईटी कार्रवाई में जुटी हुयी है।

भूमि मुआवजा घोटाले में किसानों की धरपकड़ के लिए एसआईटी ने 18 किसानों के खिलाफ कोर्ट से गैर जमानती वारंट लेने के साथ ही काशीपुर तहसील के तीन काश्तकारों के खिलाफ कोर्ट से कुर्की का आदेश लिया है। इनमें दो काश्तकारों ने बृहस्पतिवार को नैनीताल स्थित विशेष भ्रष्टाचार निवारण कोर्ट में सरेंडर की अर्जी दाखिल की है। सूत्रों के अनुसार एनबीडब्ल्यू के आधार पर एसआईटी ने बीते बुधवार को विवेचना में आरोपी बनाए गये बाजपुर तहसील के केलाखड़ा निवासी काश्तकार नन्हे के घर पर दबिश दी। यहां नन्हे एसआईटी की पकड़ में नहीं आया। पूछताछ में नन्हे के परिजनों ने एसआईटी के सामने खुलासा किया कि बाजपुर तहसील के ही एक वकील ने नन्हे की भूमि का बैक डेट में 143 कराने के बाद उसे 90 लाख रुपये मुआवजा दिलवाया था। इसके एवज में वकील ने 40 लाख का कमीशन लिया। 

एसआईटी के मुताबिक यह वकील करीब आठ माह से विदेश में है। प्रकरण से संबंधित अन्य किसानों की धरपकड़ के लिए भी एसआईटी की दबिश जारी है।




उत्तराखंड 24 न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे यू-ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें |
Share To:

Post A Comment:

0 comments so far,add yours