मसूरी पर्यटन सीजन की तैयारियों को लेकर पुलिस उपमहानिरीक्षक गढ़वाल परिक्षेत्र, पुष्पक ज्योति ने नगर के होटलियर्स, व्यापारियों एवं स्थानीय नागरिकों व जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक की जिसमे आगामी पर्यटन/यात्रा सीजन के दौरान यातायात व्यवस्था सहित अनेक समस्याओं पर चर्चा की गई इस दौरान बैठक में उपजिलाधिकारी मीनाक्षी पटवाल, एसएसपी देहरादून निवेदिता कुकरेती, एसपी यातायात लोकेश्वर सिंह और सीओ मसूरी राज किशोर फर्सवाण भी उपस्थित रहे
पर्यटन सीजन की तैयारियों को लेकर बैठक करते डीआईजी पुष्पक ज्योति 
सोमवार शाम को नगर पालिका परिषद् मसूरी के सभागार में पर्यटन सीजन को लेकर डीआईजी पुष्पक ज्योति की अध्यक्षता में आयोजित हुई बैठक में स्थानीय नागरिकों और होटलियर्स व व्यापारियों ने यातायात सहित विभिन्न समस्याओं को लेकर अपने सुझाव दिए जिस पर डीआईजी ने सभी सुझावो पर जल्द अमल कर यातायात व पार्किंग जैसी समस्याओं का हल निकालने का भरोसा दिया। वही डीआईजी ने विशेषकर मसूरी की साफ़ सफाई को लेकर लोगों से अपील की है कि शहर की साफ़ सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाय। वहीँ उन्होंने कहा कि वाहन चालकों को भी अपनी कार में आवश्यक रूप से डस्टविन रखना चाहिए, ताकि सड़कों पर गंदगी ना फैले। 


वहीँ बैठक में शहर के विभिन्न चौराहों के साथ ही मसूरी कैम्पटी रोड और लंढौर चौक पर लगने वाले जाम को लेकर चर्चा की गई और एक्शन प्लान लागू करने के निर्देश दिये गए। साथ ही पिक्चर पैलेस बैरियर पर लगने वाले जाम से निजात पाने के लिए 10 मीटर आगे पुलिस द्वारा अस्थाई रूप से अपने डिवाइडर लगाये जायेंगे। डीआईजी पुष्पक ज्योति ने बताया कि मसूरी में 4000 के लगभग चौपहिया वाहन हैं, जबकि आठ हजार दोपहिया वाहन और पार्किंग मात्र दो हजार वाहनों की ही हैं। ऐसे में जब पर्यटक अपने वाहन के साथ मसूरी आते हैं, तो पार्किंग की कमी का सामना करना पड़ता है। डीआईजी ने कहा कि जिन होटलों में कमरों के हिसाब से समुचित पार्किंग व्यवस्था नही है, उन्हें निर्देशित किया कि वे अपना कर्मचारी नियुक्त कर पर्यटक को जहाँ पार्किंग हो वहां पार्किंग उपलब्ध करवाएं और सडक पर पर्यटकों की गाड़ियाँ पार्क नही करवाएं, अन्यथा होटल स्वामियों को उसका जुर्माना भुगतना पड़ेगा। वहीँ डीआईजी ने पीडब्ल्यूडी अधिकारियों को मसूरी- देहरादून रोड पर कुछ जगहों पर क्रॉस बैरियर लगाने के साथ ही मालरोड पर गड्डों की मरम्मत के भी निर्देश दिये।
वहीँ बैठक में लोगों ने शिकायत की है कि सिटी पेट्रोल यूनिट द्वारा पर्यटकों के चालान किये जा रहे हैं, और मसूरी में उसके निस्तारण की व्यवस्था नही होने के कारण पर्यटकों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, जिस पर एसपी यातायात ने कहा कि उसके लिए मसूरी में शीघ्र समन केंद्र स्थापित कर अधिकारी की नियुक्ति कर ली जायेगी, ताकि किसी को भी चालान के निस्तारण के लिए देहरादून नही जाना पड़े

बैठक में मॉल रोड पर घुमने वाले आवारा पशुओं को लेकर भी स्थानीय नागरिकों के द्वारा शिकायत करने पर डीआईजी ने उपजिलाधिकारी व नगरपालिका को निर्देशित किया कि इस पर आवश्यक कार्यवाही करेंवहीँ बैठक में देहरादून-मसूरी राष्ट्रीय राजमार्ग पर सड़क किनारे कार्पेट,दरी व खिलौने बेचने वालों पर कार्यवाही के लिए डीआईजी ने उपजिलाधिकारी को निर्देशित किया है

बैठक में कोतवाल भावना कैंथोला ने मलिंगार में यातायात व्यवस्था को सुचारू करने के लिए रेड लाइट लगाने व एकल मार्गीय यातायात व्यवस्था लागू किये जाने का सुझाव दिया, जिस पर डीआइजी ने कहा कि रेड लाइट लगाने पर विचार किया जाएगा। वहीं एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने बताया कि पार्किंग की व्यवस्था के लिए सर्वे ग्राउंड के बारे में प्रशासन के द्वारा प्रयास किये जा रहे है और उम्मीद है कि दस से पंद्रह दिन में पुलिस को सर्वे ऑफ इंडिया और सेंटर गवर्नमेंट से पार्किंग संचालन के लिए अनुमति मिल जाएगी।

बैठक में पूर्व पालिका अध्यक्ष मनमोहन सिंह मल्ल, पूर्व पालिकाध्यक्ष ओपीओ राजकिशोर फर्सवाण, एसडीएम मीनाक्षी पटवाल, संदीओ साहनी, रजत अग्रवाल, आरएन माथुर, जगजीत कुकरेजा, अजय उनियाल, कैंट सभासद बादल प्रकाश, राकेश अग्रवाल, नरेश आनन्द, अनीता सक्सेना, संजय अग्रवाल, शैलेन्द्र कर्णवाल, अनंतपाल सिंह, एई लोनिवि लक्ष्मण सिंह नेगी, एई एमडीडीए एसएस रावत, पालिका ईओ एमएल शाह, सहित बड़ी संख्या में अधिकारी व जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।

उत्तराखंड 24 न्यूज़ से जुड़े व अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे यू-ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Share To:

Post A Comment:

0 comments so far,add yours