श्रीनगर। हर साल की तरह इस बार भी वन विभाग ने जंगलों को आग से बचाने किए करोड़ों रुपये के प्लान तैयार करने के साथ ही गाँवों में जनजागरूकता अभियान चलाकर लोगों को जागरूक करने का प्रयास किया, लेकिन इस सबके बावजूद धरातल असर कहीं भी नजर नही आ रहा है। फलस्वरूप श्रीनगर रेंज के जंगलों में आये दिन धू धू कर जंगल जल रहे है,और वन महकमा बेखबर है।


गर्मी बढ़ने के साथ ही पहाड़ों में जंगल भी सुलगने लगे हैं, इन दिनों श्रीनगर और उसके आस-पास के जंगल में आग लगने से करोड़ों की वन संपदा ख़ाक हो रही है। श्रीनगर के ठीक ऊपर खोला और खंडाह गाँव के जंगलों मे भीषण आग लगी हुई है, लेकिन वन विभाग का कोई भी अधिकारी या कर्मचारी अब तक मौके पर नहीं पहुंचा है। 

जंगलों में लगने वाली इस आग से कई हेक्टेयर वन संपदा जलकर नष्ट हो गई है। साथ ही पूरे क्षेत्र में धुंआं फैलने से लोगों के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। जंगलों में लगी इस आग से वन्य जीवों के प्राणों को भी खतरा पैदा हो गया है। 

सरकार जंगलों की सुरक्षा के लिए हर साल वन विभाग को करोड़ों रुपये देती है, लेकिन विभाग इन करोड़ों रुपयों को फाइलों में दिखाकर ही खत्म कर देता है। यही कारण है कि वन विभाग आये जिन जंगलों में लगने वाली आग पर काबू नहीं कर पा रहा है।

उत्तराखंड 24 न्यूज़ से जुड़े व अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे यू-ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें
Share To:

Post A Comment:

0 comments so far,add yours